7/23/2006

एसी मची तबही कि धरती काँपी सागर डोला, कितनो ने अपनो को खोया

1 comment: