7/09/2009

आपको माँ की कामकाजी लाडली अच्‍छी लगेगी


वाह कितनी प्‍यारी बच्‍ची है, कितना काम करती है, मां की मदद भी कर रही है..................... पर ठाहरिये ये क्‍यो हुआ ?????
पिछली पोस्‍ट के ऐवज में :)

7 comments:

Udan Tashtari said...

हे प्रभु!!

Arvind Mishra said...

baap re !

AlbelaKhatri.com said...

waah
waah

kya baat hai !

संजय बेंगाणी said...

पता नहीं ऐसे उद्यमी, लोगों को पसन्द क्यों नहीं आते? :)

राज भाटिय़ा said...

वाह वाह जी, यह बच्ची जर्मन बोल रही है, ओर काम के साथ साथ गुण गुणा रही है कि काम करना बहुत अच्छा है, मेहनती लोग खुब काम करते है , मै मेहनती हुं इस लिये इसे खुब अच्छी तरह से चमका रही हुं..... ओर यह काम खत्म.
लेकिन ........ बाप रे

Nirmla Kapila said...

अरे रुको जरा पिछ्ली पोस्ट देख कर ही आते हैं

venus kesari said...

धन्य हो, हो गया बँटा धार :)

वीनस केसरी